‘भविष्य में किसी को 50% नहीं दूंगा’, नताशा स्टेनकोविक के साथ तलाक की अफवाहों के बीच हार्दिक पांड्या का पुराना वीडियो वायरल | क्रिकेट समाचार

17
‘भविष्य में किसी को 50% नहीं दूंगा’, नताशा स्टेनकोविक के साथ तलाक की अफवाहों के बीच हार्दिक पांड्या का पुराना वीडियो वायरल | क्रिकेट समाचार

भारतीय क्रिकेट के पावर कपल हार्दिक पांड्या और नताशा स्टेनकोविक हाल ही में गलत कारणों से सुर्खियों में रहे हैं। उनके तलाक की अफवाहें उड़ रही हैं, जिससे क्रिकेट जगत और उनके प्रशंसकों में हड़कंप मच गया है। जैसे-जैसे विवरण सामने आ रहे हैं, ऐसा लग रहा है कि अलगाव की राह कटुता और वित्तीय विवादों से भरी हुई है।

यह भी पढ़ें: नताशा स्टेनकोविक से तलाक की अफवाहों के बीच हार्दिक पांड्या की 91 करोड़ रुपये की नेट वर्थ में से कितना नुकसान हो सकता है?

स्वर्ग में संकट के संकेत

अशांति का पहला संकेत तब मिला जब तीक्ष्ण दृष्टि वाले प्रशंसकों ने देखा कि नताशा ने अपने इंस्टाग्राम हैंडल से ‘पांड्या’ शब्द हटा दिया है। इस सीजन में आईपीएल स्टेडियमों से उनकी स्पष्ट अनुपस्थिति, जहाँ हार्दिक गुजरात टाइटन्स का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं, ने अटकलों को और हवा दी। अंदरूनी सूत्रों ने एक शानदार विवाद का सुझाव दिया है, रिपोर्ट के अनुसार सर्बियाई मॉडल-अभिनेत्री गुजारा भत्ते के रूप में हार्दिक की पर्याप्त संपत्ति का 70% मांग रही है।

हार्दिक की दूरदर्शिता: वायरल वीडियो

दिलचस्प बात यह है कि एक पुराना वीडियो इंटरव्यू फिर से सामने आया है, जिसमें संपत्ति की सुरक्षा के मामले में हार्दिक की समझदारी के बारे में जानकारी दी गई है। क्लिप में ऑलराउंडर ने खुलासा किया है कि भविष्य में किसी भी दावे से बचने के लिए उन्होंने अपनी संपत्ति, जिसमें संपत्ति और बैंक खाते शामिल हैं, का 50% स्वामित्व अपनी माँ को हस्तांतरित कर दिया है। उन्होंने शायद सौभाग्य से कहा था, “मैं भविष्य में किसी को भी 50% नहीं देना चाहता।”

महान लिंग धन अंतर बहस

जैसे ही यह खबर फैली, सोशल मीडिया पर ध्रुवीकृत राय की बाढ़ आ गई। कुछ लोगों ने नताशा को “गोल्ड डिगर” कहकर उसकी निंदा की, जबकि अन्य ने लैंगिक धन अंतर को उजागर किया और वैवाहिक संपत्ति पर उसके अधिकार की वकालत की। यह चर्चा तेजी से आगे बढ़ी और तलाक के बाद संपत्ति के समान वितरण पर सदियों पुरानी बहस फिर से शुरू हो गई, खासकर तब जब एक पति या पत्नी की कमाई दूसरे की कमाई से बहुत अधिक हो।

आसन्न कानूनी लड़ाई

दोनों पक्षों ने कथित तौर पर शीर्ष तलाक वकीलों को नियुक्त किया है, एक लंबी कानूनी लड़ाई आसन्न लगती है। सूत्रों का कहना है कि हार्दिक की कुल संपत्ति ₹165 करोड़ के आसपास है, जो आकर्षक इंडियन प्रीमियर लीग अनुबंधों, विज्ञापन सौदों और व्यावसायिक उपक्रमों के माध्यम से अर्जित की गई है। सवाल यह है कि नताशा इस संपत्ति का कितना हिस्सा अपने साथ ले जाएगी?

सुर्खियों के पीछे की मानवीय कहानी

विवादों के भंवर में, मानवीय कहानी को उसके मूल में खोना आसान है। हार्दिक और नताशा ने 2020 में अपने बेटे अगस्त्य का स्वागत किया, महामारी लॉकडाउन के दौरान शादी के बंधन में बंधने से पहले। उनके तूफानी रोमांस और माता-पिता बनने की यात्रा ने प्रशंसकों को मोहित कर दिया था, जिससे यह कथित अलगाव और भी निराशाजनक हो गया। जैसे-जैसे हाई-प्रोफाइल जोड़ी इन उथल-पुथल भरे पानी में आगे बढ़ रही है, उनके छोटे बच्चे का कल्याण सर्वोच्च प्राथमिकता बनी रहनी चाहिए।

इस कहानी के पीछे की सच्चाई तो समय ही बताएगा। हालाँकि, एक बात तो साफ़ है – हार्दिक पांड्या का तलाक मामला एक ऐतिहासिक घटना साबित होने वाला है, जिसका भविष्य में तलाक और संपत्ति के बंटवारे को नियंत्रित करने वाले भारतीय कानूनों पर दूरगामी प्रभाव पड़ेगा।


Previous articleUPPSC प्रोफेसर रिजल्ट 2023 – रिजल्ट जारी
Next articleआईपीएल 2024: सुरेश रैना ने केकेआर के साथ फाइनल मुकाबले के लिए एसआरएच को दी अहम सलाह